बिहार के सोनू की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद, पटना में करवाई शिक्षा और हॉस्टल की व्यवस्था

Araria News
SONU SOOD HELPED BIHAR VIRAL BOY SONU KUMAR
बिहार के सोनू की मदद के लिए आगे आये सोनू सूद, पटना में करवाई शिक्षा और हॉस्टल की व्यवस्था

सोशल मीडिया (Social Media) पर इन दिनों बिहार के सोनू (Viral boy Sonu Kumar) की खूब चर्चाएं हो रही है। 11 साल का मासूम ने सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से अपनी पढ़ाई को लेकर गुहार लगाई थी। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ तो कोरोना महामारी के दौरान हजारों के मसीहा बने बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) ने नन्हें सोनू के लिए मदद के हाथ बढ़ाए हैं। उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी है कि सोनू का स्कूल में एडमिशन ही नहीं बल्कि रहने के लिए हॉस्टल की भी व्यवस्था भी हो गई है।

लोगों के लिए मसीहा बनें सोनू सूद (Sonu Sood) ने बिहार के नन्हें सोनू कुमार (Viral boy Sonu Kumar) के लिए मदद के हाथ आगे बढ़ाए हैं। बॉलीवुड एक्टर ने ट्वीट कर ये जानकारी दी है, जिसके बाद एक बार फिर से सोशल मीडिया पर उनकी खूब तारीफ हो रही है।

Sonu Sood came forward to help Sonu of Bihar
बिहार के सोनू की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद

कौन है 11 साल का सोनू कुमार?

आपको बता दें कि 11 साल का सोनू, बिहार में नालंदा जिले के नीमा कौल गांव का रहने वाला है। सोनू ने 14 मई को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से हाथ जोड़कर अपनी पढ़ाई का बंदोबस्त कराने की अपील की थी।

Viral boy Sonu Kumar
सोनू ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से हाथ जोड़कर अपनी पढ़ाई का बंदोबस्त की अपील की थी

ये वहीं सोनू हैं, जिसने आरजेडी नेता और हसनपुर से विधायक तेज प्रताप यादव से वीडियो कॉल पर बताया था कि वो आईएएस बनना चाहता है, लेकिन उनके (तेज प्रताप) या किसी के अंडर में काम नहीं करेगा।

सोनू सूद ने ट्वीट कर दी जानकारी

सोनू सूद ने ट्वीट किया और लिखा- ‘सोनू ने सोनू की सुन ली भाई। स्कूल का बस्ता बांधिए. आपकी पूरी शिक्षा और हॉस्टल की व्यवस्था हो गई है’। सोनू ने अपने ट्वीट में ये भी बताया कि सोनू का एडमिशन Ideal International Public School BIHTA (Patna) में करवाया गया है।

पिता की शराब की लत से है परेशान

11 year old Sonu
11 साल के सोनू

बेबाकी से अपनी बात रखने वाले 11 साल के सोनू अपने पिता के शराब पीने की लत से परेशान है। उसने बताया था कि वह पढ़ना चाहता है और उसके पिता दही बेचने का काम करते हैं, लेकिन जो पैसा कमाते हैं वो शराब में लुटा देते हैं, जिस वजह से उसे स्कूल पढ़ने में दिक्कत हो रही है।

Share This Article