बिहार में पहली बार बनेगी सुरंग वाली फोर लेन सड़क, 1037 करोड़ आएगा खर्च

Araria News
a four lane tunnel road first time in bihar
बिहार में पहली बार बनेगी सुरंग वाली फोर लेन सड़क, 1037 करोड़ आएगा खर्च

ग्रांड ट्रंक (जीटी) रोड यानी राष्ट्रीय राजमार्ग-2 के समानांतर बनने वाले वाराणसी-कोलकाता एक्सप्रेस-वे के बिहार वाले एलायनमेंट में पांच किमी सुरंग (टनल) वाली सड़क का निर्माण भी सम्मिलित है। बिहार की यह पहली सुरंग वाली सड़क होगी। सड़क का निर्माण चार लेन में कराया जाना है। अभी इसके लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र की प्रतीक्षा हो रही है।

यहां बनेगी सुरंग वाली 5 किमी सड़क

सुरंग वाली सड़क कैमूर में बनाई जानी है। यह हिस्सा कैमूर वाइल्ड लाइफ सेंक्चुरी का है। सुरंग वाली सड़क तो 4.75 किलोमीटर में प्रस्तावित है, लेकिन इसके लिए छह किमी का हिस्सा लिया जाएगा। इसके निर्माण के लिए संबंधित मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिया जाना हैै। उसके बाद यह डीपीआर का हिस्सा बनेगी।

Tunneled road to be built in Kaimur in Bihar
बिहार में सुरंग वाली सड़क कैमूर में बनाई जानी है

निर्माण पर 1,037 करोड़ खर्च होंगे

वाराणसी-कोलकाता एक्सप्रेस-वे की कुल लागत 16,142 करोड़ रुपये अनुमानित है और इसमें 1,037 करोड़ रुपये सुरंग के निर्माण पर खर्च होंगे। इस परियोजना में 744 हेक्टेयर जमीन वन क्षेत्र में है। कुल 124 किमी सड़क वन क्षेत्र का हिस्सा है।

इन जिलों से होकर गुजरेगी सड़क

उत्तर प्रदेश (यूपी) में इस सड़क का केवल 22 किलोमीटर हिस्सा है। बिहार में यह कैमूर जिले में 52, रोहतास में 36.5, औरंगाबाद में 38 और गया जिले में 32.9 किलोमीटर है। इस परियोजना के लिए बिहार में 1,757 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की आवश्यकता होगी।

This will be the first tunnel road of Bihar
बिहार की यह पहली सुरंग वाली सड़क होगी

इसमें वन क्षेत्र का हिस्सा 78 किलोमीटर का हैै। एक अनुमान के अनुसार बिहार में इस परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण पर 1,925 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

27 बड़े पुल और आठ आरओबी भी बनेंगे

वाराणसी-कोलकाता एक्सप्रेस-वे के निर्माण के साथ 27 बड़े पुल और आठ रेल ओवरब्रिज इसके एलायनमेंट का हिस्सा हैैं।

Share This Article