बिहार में इथेनॉल का प्लांट लगाना हुआ आसान, आसानी से मिलेगा लोन व बढ़ेगा रोजगार

Araria News
Easy to set up ethanol plant in Bihar
Easy to set up ethanol plant in Bihar

बिहार में इथेनॉल का प्लांट लगाना हुआ आसान, आसानी से मिलेगा लोन व बढ़ेगा रोजगार- बिहार में रोजगार के मुद्दे पर लगातार सरकार द्वारा काम किया जा रहा है विशेष कर बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन नए नए उद्योगों का अनावरण कर रोजगार के नए नए अवसर का रास्ता साफ़ कर रहे हैं ।

बिहार में इथेनॉल का प्लांट लगाना हुआ आसान

बिहार के हर जिले के लोगो को रोजगार मिले इसी लिए सरकार ने हर जिले में इथेनॉल प्लांट शुरू करने की घोषणा की है । जानकारी के लिए आपको बता दे कि अब बैंको ने भी इथेनॉल प्लांट खोलने के लिए लोन देने पर सहमति जताई है । इसके लिए बैंकों ने एसओपी (यदि आप किसी नये ऑर्गेनाइजेशन को संचालित करना चाहते है, तो इसके लिए एसओपी अत्यंत आवश्यक है) को स्वीकार किया है । 

सूबे में उद्योग-धंधों को मिलेगा अवसर- शाहनवाज

एसओपी स्वीकृति के बाद उद्योग लगाने के लिए इथेनॉल इकाइयों को तय ब्याज अनुदान स्किम के तहत सस्ता और आसान लोन उपलब्ध कराने कि मंजूरी मिल चुकी है । राज्य के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने बताया कि बैंकों द्वारा सस्ता लोन दिए जाने का निर्णय सराहनीय है। इससे सूबे में उद्योग-धंधों को अवसर मिलेगा। बिहार की इथेनॉल नीति के तहत यहां लगने वालीं इकाइयों को दूसरे राज्यों की तह ब्याज अनुदान स्कीम का बराबर लाभ दिलाने की केंद्र से लगातार मांग हो रही थी। अब उसी मांग को देखते हुए बैंकों ने सस्ता और आसान लोन उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को मंजूर कर दिया है।

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि बैंक अपना सीडी रेशियो सुधार कर सभी को लोन प्रदान करें। छोटा व्यवसाय हो या बड़ा व्यवसाय-उद्योग उसे शुरू करने के लिए बैंक द्वारा तत्काल और सस्ता लोन दिया जाये ताकि बिहार का पैसा बिहार में ही रहे और यहां रोजगार के अवसर बढ़ें।

आरा में होगा पहला इथेनॉल प्लांट

जानकारी के लिए आपको बता दे कि आरा शहर में सूबे का पहला इथेनॉल का प्लांट लगाया जा रहा है। यहां प्लांट लगाने का काम शुरू हो चुका है। अगले चार-पांच महीनों में प्लांट पूरी तरह तैयार हो जायेगा । वहीँ इथेनॉल का दूसरा प्लांट पूर्णिया जिले में लग रहा है। यहां भी प्लांट का निर्माण चल रहा है। हालांकि यह अगस्त या सितंबर में शुरू होगा।

पूर्णिया में भी लग रहा है इथेनॉल प्लांट

पूर्णिया में इस नए उद्योग की शुरुआत से मिथिलांचल और सीमांचल के कई जिलों के लोगों को रोजगार मिलेगा । इस उधोग के बाद इन क्षेत्रो में काफी हद तक बेरोजगारी को कम किया जा सकता है । इसके अलावा अप्रत्यक्ष रूप से काफी लोगों की आजीविका चलेगी। यहां इथेनॉल का प्लांट लगाने के लिए मेसर्स इस्टर्न इंडिया बायो फ्यूल्स प्राइवेट लिमिटेड को अधिकृत किया गया है। इसे शुरू करने के लिए कंपनी 96 करोड़ 76 लाख रुपए खर्च करेगी । इस पूरी परियोजना को सरकार द्वारा मंजूरी मिल चुकी है। प्लांट लगाने के लिए 5 एकड़ जमीन भी चिह्नित कर ली गई है।

हर जिले में इथेनॉल प्लांट लगाए जाने कि योजना

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन का कहना है कि सूबे के हर जिले में इथेनॉल का प्लांट लगाया जायेगा ताकि बेरोजगारी कम हो। गन्ना, मक्का और चावल की टुकड़ी से इथेनॉल बनाने का प्लांट लगाया जाएगा। एक प्लांट करीब 50 एकड़ में लगाने की योजना है। इसके लिए बिहार इंडस्ट्रियल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (बियाडा) के पास 2500 एकड़ जमीन उपलब्ध है। राज्य सरकार के प्रस्ताव केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी मिल चुकी है। इसके साथ साथ केंद्र सरकार ने बिहार से सभी इथेनॉल की खरीदारी की भी गारंटी की बात कही है।

Share This Article