inspire award to ritika of bhagalpur for making a modern school bag

बिहार की बेटी रितिका को मिलेगा इंस्पायर अवार्ड, बना डाला मॉडर्न स्कूल बैग, जाने खासियत

शिक्षा में नवाचार को बढ़ावा देने के लिए आयोजित होने वाले इंस्पायर अवार्ड में भागलपुर की रितिका सहित 24 छात्रों का चयन राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली प्रतियोगिता के लिए हुआ है। चयनित छात्र अब 14 से 16 सितंबर तक नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय प्रदर्शनी सह परियोजना प्रतियोगिता (एनएलइपीसी) में भाग लेंगे। प्रदर्शनी में प्रतिभागी अपने माडल का प्रदर्शन करेंगे।

इससे पहले 29 -30 अगस्त को पटना में आयोजित राज्य स्तरीय प्रदर्शनी सह परियोजना प्रतियोगिता (एसएलइपीसी) में राज्य के विभिन्न जिलों के बच्चों द्वारा तैयार माडल की प्रदर्शनी लगाई गई। जिसमें 24 छात्रों के माडल को राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए चयनित किया गया।

24 students including Ritika of Bhagalpur selected in Inspire Award
इंस्पायर अवार्ड में भागलपुर की रितिका सहित 24 छात्रों का चयन

रितिका ने बनाया मॉडर्न स्कूल बैग

एनके हाइ स्कूल झंडापुर, बिहपुर की छात्रा रितिका कुमारी ने माडर्न स्कूल बैग तैयार किया। रितिका द्वारा तैयार किए गए स्कूल बैग में कैप (टोपी) लगाया गया है। इस कारण बच्चों को धूप और गर्मी से बचाने में माडर्न स्कूल बैग काफी कारगर साबित होगा।

Ritika Kumari designed modern school bag
रितिका कुमारी ने माडर्न स्कूल बैग तैयार किया

झंडापुर निवासी शंभू राय और चंदा देवी की पुत्री रितिका ने कहा कि जब मैं मध्य विद्यालय चौधरी टोला झंडापुर में कक्षा सात की छात्रा थी, उसी समय शिक्षकों ने इंस्पायर अवार्ड के बारे में जानकारी दी। सभी छात्र-छात्राओं से कहा गया कि कोई मौलिक आइडिया हो, तो शेयर करें।

पढ़ लिख कर IAS बनना चाहती है रितिका

स्कूल से लौटने के समय मैंने देखा कि पीठ पर स्कूल लादे बच्चे परेशान होकर घर जा रहे हैं। उसी समय मैंने सोचा कि अगर बैग में कैप हो, तो यह बच्चों को धूप, बरसात से बचा सकता है। मैंने अपना आइडिया विज्ञान शिक्षक आशीष ठाकुर से साझा की। उन्होंने मुझे प्रोत्साहित किया। मेरे भाई आयुष ने भी खूब मदद की।

Ritika wants to become an IAS by reading and writing
पढ़ लिख कर IAS बनना चाहती है रितिका

पहले जिला और उसके बाद राज्य स्तर पर मेरे माडल का चयन किया गया। दस हजार रुपये मिलने के बाद मैं माडल को धरातल पर उतराने में सफल रही। मार्डन स्कूल बैग पूरी तरह से वाटरप्रूफ है। इस कारण बरसात में किताब-कांपी भींगने की संभावना भी काफी कम हो जाएगी। रितिका ने कहा कि मैं पढ़ लिख कर आइएएस बनना चाहती हूं।

bpsc perfection ias batch
प्रमोटेड कंटेंट

Similar Posts