बिहार में सोने के बाद तेल भण्डार होने के आसार, ONGC को मिला पेट्रोलियम एक्सप्लोरेशन का लाइसेंस

Araria News
Oil Reserves Found In Bihar Ongc Will Do Petroleum Exploration
बिहार में सोने के बाद तेल भण्डार होने के आसार, ONGC को मिला पेट्रोलियम एक्सप्लोरेशन का लाइसेंस

लगता है बिहार में अब अच्छे दिन आनेवाले हैं। झारखंड के निर्माण के बाद बालू और बाढ़ की बहुतायत वाले बिहार के भूगर्भ में अब कीमती वस्तुओं के मिलने की संभावना बलवती होती जा रही है। राज्य के एक इलाके में सोने का खान मिल रहा है तो दूसरे इलाके में तेल के भंडार होने की संभावना जतायी जा रही है।

बिहार सरकार ने दी मंजूरी

बिहार के बक्सर और समस्तीपुर जिले में तेल के बड़े भंडार होने का पता चला है। ओएनसीजी की मानें तो समस्तीपुर जिले के 308 किलोमीटर और बक्सर के 52.13 वर्ग क्षेत्र में पेट्रोलियम पदार्थ मिलने के संकेत मिल रहे हैं। तेल की खोज के लिए बिहार सरकार ने ओएनसीजी को स्वीकृति प्रदान कर दी है। भारत सरकार ने भी एक प्रस्ताव भेजा था।

Bihar government approves ONGCs application
बिहार सरकार ने ओएनजीसी के आवेदन को मंजूरी दे दी

ओएनजीसी को मिला लाइसेंस

ओएनजीसी ने बिहार के खान और भूतत्व विभाग से पेट्रोलियम एक्सप्लोरेशन (अन्वेषण) के लिए लाइसेंस का आवेदन दिया है। बिहार सरकार ने ओएनजीसी के आवेदन को मंजूरी दे दी है। बक्सर जिला प्रशासन को इस संदर्भ में एक पत्र आया है।

Signs of getting petroleum products in 308 km of Samastipur district and 52.13 sq. area of Buxar
समस्तीपुर जिले के 308 किलोमीटर और बक्सर के 52.13 वर्ग क्षेत्र में पेट्रोलियम पदार्थ मिलने के संकेत

बक्सर के जिलाधिकारी ने बताया कि इस आशय का पत्र जिला प्रशासन को प्राप्त हुआ है कि गंगा के बेसिन में पेट्रोलियम पदार्थ हो सकतें हैं। तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड (ओएनजीसी) का यह अनुमान है कि बक्सर 52.13 किमी और समस्तीपुर में तेल के बड़े भंडार हो सकते हैं। डीएम ने कहा कि बहुत जल्दी ही ओएनजीसी के साथ मिलकर स्थल निरीक्षण का कार्य किया जाएगा।

अत्याधुनिक तकनीक से किया जाएगा खोज

समस्तीपुर जिले से सांसद और भारत सरकार के गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने इस संबंध में कहा कि भारत सरकार के उपक्रम तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड को समस्तीपुर के गंगा बेसिन में पेट्रोलियम पदार्थों के खोज के लिए सोमवार को बिहार सरकार ने स्वीकृति दे दी है।

Oil exploration in 308 km square area in Samastipur with state-of-the-art technology
समस्तीपुर में 308 किलोमीटर वर्ग क्षेत्र में तेल की खोज अत्याधुनिक तकनीक से

ऐसा अनुमान है कि पेट्रोलियम का भंडार मिलेगा। समस्तीपुर में 308 किलोमीटर वर्ग क्षेत्र में तेल की खोज अत्याधुनिक तकनीक से किया जाना है। अगर सर्वे में सकारात्मक परिणाम आये, तो खुदाई का काम शुरू किया जायेगा।

समस्तीपुर के साथ बदलेगा बिहार का भाग्य

देश के गृह राज्यमंत्री मंत्री राय ने कहा कि समस्तीपुर जिले से गुजरने वाली गंगा बेसिन में तेल का पर्याप्त भंडार होने का अनुमान बहुत पहले से लगाया जा रहा है, लेकिन इस बार सर्वे के बाद यह आंकड़ा उपलब्ध हो जायेगा कि अगर तेल है तो उसे निकालने में कितना खर्च आयेगा।

Bihars fate will change with Samastipur
समस्तीपुर के साथ बदलेगा बिहार का भाग्य

नित्यानंद राय ने तेल भंडारण के मिलने का दावा करते हुए कहा कि पेट्रोलियम मंत्री से बात होने के बाद मैं दावे के साथ कहा सकता हूं कि समस्तीपुर में तेल तेल का भंडार मिलने का अनुमान सत्य साबित होने वाला है। यहां 308 किलोमीटर वर्ग क्षेत्र में तेल अगर मिल जाता है, तो आप समझ सकते हैं कि समस्तीपुर के साथ साथ बिहार में क्या हो सकता है।

भारत बनेगा आत्मनिर्भर

केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि भारत पेट्रोलियम के क्षेत्र में भी आत्मनिर्भर बने। हमें दूसरे देशों पर आश्रित नहीं होना पड़े। उन्होंने बताया कि पेट्रोलियम पदार्थों पर भारत सरकार को एक बड़ी राशि सब्सिडी के रूप में देनी पड़ती है।

बिहार सरकार को भी तेल भंडार से काफी उम्मीदें हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निजी तौर पर इस विषय को देखा है और तत्काल ओएनजीसी के आवेदन पर मंजूरी दी है।

Share This Article