बिहार: स्कूल पहुंचे अधिकारी तो सो रहे थे गुरूजी, BDO ने 40 मिनट ली क्लास फिर भी नहीं खुली नींद

Araria News
school pahunche adhikari to so rahe the guruji
बिहार: स्कूल पहुंचे अधिकारी तो सो रहे थे गुरूजी, BDO ने 40 मिनट ली क्लास फिर भी नहीं खुली नींद

बिहार के गोपालगंज जिले से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जो राज्य में बेहतर शिक्षा व्यवस्था के दावों की पोल खोलती नजर आती है। यह तस्वीर फ़िलहाल सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। दरअसल मामला गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय दिघवा का है, जहां शुक्रवार को क्लास रूम में छात्रों को पढ़ाने की बजाय गुरुजी सो रहे थे। इसी दौरान शिक्षा विभाग के निर्देश पर बैकुंठपुर के बीडीओ अशोक कुमार जांच करने स्कूल पहुंच गये और उन्होंने गुरुजी को सोते देखा तो उनके भी होश उड़ गये।

बीडीओ अशोक कुमार ने वहां देखा कि क्लास रूम में बच्चे खेल रहे थे। तब उन्होंने बच्चों से कहा कि आपको आज मैं पढ़ाता हूं, जिसके बाद सभी बच्चे अपनी-अपनी सीट पर बैठ गए। इस दौरान बीडीओ ने करीब 40 मिनट तक छात्रों को पढ़ाया। उसके बाद भी गुरुजी की नींद नहीं खुली तो उनको फिर जगाया गया।

Guruji was sleeping instead of teaching the students in the class room.
क्लास रूम में छात्रों को पढ़ाने की बजाय गुरुजी सो रहे थे

BDO को देखकर हैरान हुए गुरुजी

शिक्षक की जब नींद खुली तो सामने बीडीओ अशोक कुमार को देख गुरुजी हैरान रह गए। शिक्षक को समझ नहीं आ रहा था कि वह क्या जवाब दें। हालांकि, बीडीओ ने शिक्षक को समझाकर बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ नहीं करने हिदायत दी है।

BDO taught students for about 40 minutes
बीडीओ ने करीब 40 मिनट तक छात्रों को पढ़ाया

वहीं निरीक्षण के दौरान स्कूल की दुर्दशा को गंभीरता से लेते हुए बीडीओ ने इस मामले में कार्रवाई की अनुसंशा करने की बात कही है। बीडीओ ने स्कूल की व्यवस्थाओं को और बेहतर बनाने की बात भी कही है।

शिक्षक को दी गयी हिदायत

वहीं इस बारे में बीडीओ अशोक कुमार ने बताया कि आदेश आने के साथ ही स्कूल की जांच करने पहुंचे तो चौकाने वाला नजारा सामने आया। ऐसी गलती दोबारा न हो, इसके लिए शिक्षक को हिदायत दी गयी।

आपको बता दें, बीते दिनों शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव द्वारा स्कूलों की जांच के लिए निर्देश दिया गया था, जिसके बाद आज जिला प्रशासन के अधिकारियों ने स्कूलों में जांच अभियान चलाया। जांच के दौरान बैकुंठपुर प्रखंड के सरकारी स्कूल की यह तस्वीर सामने आयी, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

Share This Article