Bihar Weather: बिहार में मौसम मारेगा पलटी, चढ़ेगा पारा, इन जिलों में बारिश का अलर्ट

Araria News
Weather will reverse in Bihar
Bihar Weather: बिहार में मौसम मारेगा पलटी, चढ़ेगा पारा, इन जिलों में बारिश का अलर्ट

बिहार में एक बार फिर से मौसम पलटी मारने जा रहा है। फिलहाल राज्य का मौसम शुष्क बना हुआ रहेगा। लेकिन मौसम विभाग की ओर से राजधानी पटना सहित प्रदेश के 8 जिलों में बारिश को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार एक साइक्लोन सरकुलेशन पूर्वोत्तर बिहार से झारखंड की ओर शिफ्ट हो रहा है।

एक टर्फ लाइन दक्षिणी असम से पूर्वी यूपी, बिहार से गुजर रहा है। जिस कारण से पश्चिमी-पूर्वी चंपारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुवनी, सुपौल, अररिया, किशनगंज में हल्की बारिश की संभावना नजर आ रही है। एक बार फिर से आज यानी चौदह मई 2024 से गर्मी बढ़ने की संभावना है। इस दौरान तीन से चार डिग्री पारा चढ़ सकता है।

गर्मी बढ़ने की संभावना

मौसम विभाग के मुताबिक आज यानी 14 मई से एक बार फिर से अधिकतम तापमान में तीन से चार डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी। जिसके वजह से एक बार फिर से गर्मी राज्य के लोगों को परेशान करेगी। वहीं 17 मई 2024 को पश्चिमी विक्षोभ के दस्तक देने का अनुमान भी है। जिससे बिहार के कई जिलों में बारिश भी हो सकती है।

पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक बारिश पश्चिमी चंपारण के गौनाहा में 93.4 एमएम में दर्ज की गई। गया के वजीरगंज में 36 एमएम, नवादा में 32.6 एमएम, सोनबरसा में 28.6 एमएम, शिवहर में 15.8 एमएम बारिश हुई है।

अगले सप्ताह तक 40 डिग्री तक पहुंचेगा तापमान

भागलपुर जिले में बारिश की गतिविधियां रुकते ही एक बार फिर से मौसम गर्म होने लगा है। अगले सप्ताह 19 मई तक अधिकतम तापमान एक बार फिर से 40 डिग्री के आसपास पहुंच सकता है। सोमवार को सुबह से लेकर शाम तक तेज धूप का असर देखने को मिला।

दोपहर के समय तेज धूप से लोगों को गर्मी व उमस का अहसास हुआ। अधिकतम तापमान 35.5 डिग्री व न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री रहा। वहीँ पूर्वा हवा की गति 6.8 किमी/घंटा रही। जबकि हवा में नमी की मात्रा 79% रही।

सब्जियों में सिंचाई कर सकते है किसान

बीएयू सबौर के ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के नोडल पदाधिकारी डॉ सुनील कुमार ने बताया कि 14 से 18 मई 2024 के बीच भागलपुर में अधिकतम व न्यूनतम तापमान में हल्की बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है। इस दौरान आसमान में बादल भी छाये रह सकते हैं।

हालांकि बारिश की संभावना नहीं है। इस दौरान पूर्वा हवा चलेगी और हवा की गति 4 से 7 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है। किसान सब्जियों में इस दौरान आवश्यकता अनुसार सिंचाई कर सकते हैं।

Share This Article