अररिया के अभिनंदन का सिंघम स्टाइल, SDPO को देखते ही लोग कहते है ‘वाह क्या मूंछ है’

Manikant Pathak
Ararias Abhinandans Singham style
अररिया के अभिनंदन का सिंघम स्टाइल

सरकारी महकमों में ड्रेस कोड सहित जीवन शैली पर भी विभागीय नियंत्रण रहता है। लेकिन इसी बीच कुछ खास अंदाज के कारण कुछ अधिकारियों की चर्चा होती रहती है। बिंदास अंदाज और सकारात्मक विचारों के साथ-साथ शानदार मूंछ के लिए भी अररिया अनुमंडल पुलिस अधिकारी पुष्कर कुमार चर्चित हैं।

एसडीपीओ कुमार जब अररिया में पदस्थापित हुए थे तो छोटी-छोटी मूंछें रखते थे। लेकिन समय के साथ-साथ उनकी धीरे-धीरे मूंछें भी बढ़ती गई। ऐसी मूंछें कि उनकी मूंछों की शहर से लेकर गांव तक चर्चा होने लगी।

अपराधियों में बना रहता है डर

कुछ युवा तो उनके सिंघम स्टाइल मूंछों के ऐसे दीवाने हुए कि वे भी एसडीपीओ माडल मूंछें रखने लगे। उनकी मूंछों को देखकर अपराधियों में डर बना रहता है। बड़े घुमावदार मूंछ रखने वालों के विषय में लोगों में कुछ नकारात्मक भावनाएं रहती है लेकिन एसडीपीओ पुष्कर कुमार के मूंछों के पीछे न सिर्फ एक अच्छे पुलिस अधिकारी हैं बल्कि एक अच्छे इंसान भी हैं।

SDPO Pushkar Kumar's mustache is discussed from city to village
एसडीपीओ पुष्कर कुमार की मूंछों की शहर से लेकर गांव तक होती है चर्चा

उन्होंने पुलिसिंग का तौर तरीका ही अपने दोस्ताना व्यवहार से बदल डाला है। शहर के आम से लेकर खास लोगों में उनका पारिवारिक संबंध बन गये हैं। एसडीपीओ के भड़कदार मूंछों के पीछे एक अच्छे इंसान होने की खासियत छिपा है।

अभिनंदन और मनु महाराज है आदर्श

एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि भारतीय वायुसेना के वीर अधिकारी अभिनंदन और आइपीएस मनु महाराज मेरे आदर्श हैं। मिग विमान के साथ पाकिस्तान में पकड़े जाने के बावजूद अभिनंदन ने साहस दिखाया और देशभक्ति की भावना से ओतप्रोत थे।

उनकी मूंछें देखकर ही शरीर में उर्जा का स्पंदन होने लगता है। साथ ही मूंछों के लिए चर्चित आइपीएस अधिकारी मनु महाराज के साथ भी मुझे काम करने का अवसर मिला है। वे बेहद कुशल अधिकारी हैं। पुलिस प्रबंधन में पुलिस को हर वक्त नम्र होना चाहिए। पुलिस एक सेवा है। पुलिस के पी का मतलब ही पोलाइट होता है। नम्र व्यक्ति ही किसी काम को अच्छी तरह से ख़तम कर सकते हैं।

new batch for hindi medium
प्रमोटेड कंटेंट

Share This Article