JP Ganga Path Marine Drive will be even more special

जेपी गंगा पथ मरीन ड्राइव होगा और भी खास, तेजस्वी यादव ने दिया निर्देश, जानिए प्लान

पटना वासियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। अब जेपी गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव और भी खूबसूरत होने वाला है। जिसको लेकर डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने बैठक की है। तेजस्वी यादव इसको लेकर अधिकारियों को कुछ निर्देश भी दिया है।

जेपी गंगा पथ को अब 6 जोन में बांटा जाएगा। हर आयु वर्ग का खास ख्याल रखा जाएगा। इस पर जल्द काम शुरू होने की संभावना बताई जा रही है।

जेपी गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव’ को लेकर डिप्टी सीएम ने की बैठक

डिप्टी सीएम सह पथ निर्माण मंत्री तेजस्वी यादव ने बैठक की। इस बैठक में जेपी गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव’ को लेकर भी चर्चा की गई। तेजस्वी यादव ने इस बैठक में गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव’ को लेकर कई महत्वपूर्ण निर्देश दिया।

JP Ganga Path will now be divided into 6 zones
जेपी गंगा पथ को अब 6 जोन में बांटा जाएगा

गंगा किनारे बने जेपी गंगा पथ को 6 जोन में बंटा जाएगा। जिसमे हर वर्ग के लोगों का खास ख्याल जाएगा। तेजस्वी यादव ने गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव’ को कल्चरल, स्पोर्ट्स, एंटरटेनमेंट, रीक्रिएशनल, सीनियर सिटीजन और किड्स ज़ोन में बांटने का निर्णय लिया है।

15 नवंबर से फिर शुरू होगी काम 

जानकरी दे दे कि पटना के लोगो को सरकार ने सैर करने लिए गंगा पथ ‘मरीन ड्राइव’ के रूप में सौगात दी है। ये शुरू होते ही काफी सुर्खियों में रहा। यहां लोगों की भारी भीड़ रहती है। पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (PMCH) से गाय घाट तक की सड़क अगले साल मार्च तक तैयार होने की संभावना बताई जा रही है।

पूरे प्रोजेक्ट को जून, 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य दिया गया है। गंगा के जल स्तर में वृद्धि के कारण, मानसून के मौसम में कारण फिलहाल इस पर काम को रोक दिया गया था। लेकिन अब ठेकेदारों को 15 नवंबर से काम फिर से शुरू करने का निर्देश दिया गया है।

पहले भी की गई थी चर्चा

इससे पहले भी पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए पर्यटन विभाग गंगा पथ को विकसित करने की योजना पर चर्चा कर चुका है। इसके अंतर्गत विभिन्न स्थानों पर सेल्फी प्वाइंट, फ्लोटिंग जेट्टी, फ्लोटिंग रेस्टोरेंट, कैफेटेरिया सहित अन्य सुविधा बढ़ाने की योजना की गई है।

new batch for bpsc by perfection ias
प्रमोटेड कंटेंट

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *